Breaking News
Home / राष्ट्रीय / रात 10 से सुबह 5 बजे तक होती रही हैवानियत, आरोपियों ने झांसे में लाने के लिए स्कूटी भी की थी पंक्चर

रात 10 से सुबह 5 बजे तक होती रही हैवानियत, आरोपियों ने झांसे में लाने के लिए स्कूटी भी की थी पंक्चर


हैदराबाद. डाक्टर के साथ गैंगरेप मामले में बेहद ही शर्मनाक खुलासा हुआ है। अब तक की जो जानकारी निकलकर सामने आयी है, उसके मुताबिक आरोपियों ने ही पहले उसकी स्कूटी को पंक्चर किया और फिर उसे बनवाने के नाम पर हवस का शिकार बनाया। पुलिस ने अब तक इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक रात भर ट्रक ड्राइवरों व क्लिनर ने डाक्टर प्रियंका के साथ गैंगरेप किया और फिर सुबह करीब 5 बजे अधमरी स्थिति में  उस पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया।

हैवानियत की इंतहा करते हुए पेट्रोल डालने से पहले गैंगरेप के पहले बिछाये गये दरी में ही डाक्टर को लपेट दिया गया और फिर उसमें पेट्रोल उड़ेल दिया गया। मोहम्मद पाशा नामक व्यक्ति (नारायणपेट) के इस मामले में मुख्य सूत्रधार होने का पता चला है। तोंडुपल्ली टोलप्लाजा के पिछले हिस्से में खुली जगह पर प्रियंका का गैंगरेप कर बाद में उसकी हत्या की गई है। आरोपी महबूबनगर और रंगारेड्डी जिले के रहने वाले हैं। प्रियंका रेड्डी की लाश के पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट के मुताबिक आरोपियों ने प्रियंका की लाश को पहले चादर में लिपटा और बाद में उसपर केरोसिन छिड़क कर आग लगा दी। प्रियंका की हत्या के बाद शव को घटनास्थल से करीब 30 किलो मीटर दूर ले जाया गया। पुलिस का कहना है कि बुधवार रात 9.30 बजे से गुरुवार तड़के 4 बजे तक आरोपियों ने प्रियंका को अपने हवस का शिकार बनाया और आखिर में उसकी हत्या कर दी।

शराब के नशे में हैवानियत

रात के वक्त नगर में नो एंट्री होने से आरोपियों ने अपनी लॉरियों को तोंडुपल्ली गेट के पास रोककर शराब का सेवन किया और उसी दौरान उनकी टोलगेट के पास स्कूटी पंक्चर होने के कारण अकेली खड़ी प्रियंका पर उनकी नजर पड़ी। आरोपी स्कूटी का पंक्चर जुडवाने के बाहने उसे अपने साथ ले गए। बाद में उसके साथ बलात्कार किया और उसकी हत्या कर लाश को करीब 30 किलो मीटर दूर फेंकने के बाद दो आरोपी बाइक पर और कुछ अन्य लॉरी से लौट गए।

महिला आयोग ने मांगी रिपोर्ट

देश की राजधानी दिल्ली की निर्भया घटना की याद दिला रही प्रियंका रेड्डी की घटना को राष्ट्रीय महिला आयोग ने गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच का फैसला किया है। महिला आयोग ने स्पष्ट किया कि इस मामले में आरोपियों को कड़ी सजा मिलने तक वह अपना संघर्ष जारी रखेगा। साथ ही आयोग ने अधिकारियों को घटना की जांच पर विस्तृत रिपोर्ट देने का आदेश दिया है और इसी के तहत हैदराबाद के डीजीपी को एक पत्र भी लिखा है।

About Editor

Check Also

ISRO ने लॉन्च किया RISAT-2BR1, अंतरिक्ष से दिन हो या रात, करेगा सीमाओं की निगरानी

चेन्नई. ISRO ने आज अतंरिक्ष में एक और बड़ी छलांग लगाते हुए अपने रडार इमेजिंग पृथ्वी …