Breaking News
Home / राष्ट्रीय / जानिए, आखिर क्यों 32 साल का युवक बना 82 साल का बुजुर्ग, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

जानिए, आखिर क्यों 32 साल का युवक बना 82 साल का बुजुर्ग, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान


नई दिल्ली. दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर एक 32 साल के युवक को 82 साल का बुजुर्ग बनकर अमेरिका (America)जाने की कोशिश में पकड़ा गया है. आरोपी युवक को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. विदेश जाने की चाहत में कोई व्यक्ति किस हद तक जा सकता है. इसका अंदाजा आप इस शख्स को देखकर लगा सकते है. देखने मे ये भले ही 82 साल का बुजुर्ग लग रहा है लेकिन असल मे इसकी उम्र 32 साल है. आप सोच रहे होंगे कि आखिर एक नौजवान को अधेड़ उम्र का बुजुर्ग क्यों बनना पड़ा, तो आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि, इसकी विदेश जाने की चाहत ने इसको अपना हुलिया बदलने की चाहत ने मजबूर कर दिया.

दरअसल गुजरात के अहमदाबाद के 32 साल के जयेश पटेल अमेरिका (America)जाना चाहता था जिसके लिए जब इसको अमेरिका (America)का वीजा नहीं मिला तो इसने एक एजेंट से संपर्क किया जिसने इसको अपनी पहचान बदलकर एक बुजुर्ग बनकर नया पासपोर्ट बनाने को कहां जिसके बाद अमेरिका (America)का वीज़ा लेने की सलाह दी. 21 अगस्त को जयेश पटेल ने दिल्ली से अमरीक सिंह के नाम से पासपोर्ट बनवाया और फिर अमेरिका (America)का वीज़ा भी लग गया.

लेकिन जब ये दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बिल्कुल आखिरी चेकिंग के लिए व्हीलचेयर पर पहुंचा तो सुरक्षा के तैनात सीआईएसफ ने इसको इसकी त्वचा की वजह से पकड़ लिया. 32 साल का जयेश पटेल पिछले दो महीनों से बुजुर्ग वाले इसी वेश में है. बूढ़ा दिखने के लिए इसने अपनी दाढ़ी बड़ाई और बाल और दाढ़ी को सफेद कर लिया.

एक चश्मा और पगड़ी लगाकर इसने पहले इसी रूप में फ़ोटो खिंचवाई और पासपोर्ट बनवाया. जिसके बाद बुजुर्ग होने की वजह से इसको अमेरिका (America)का वीजा भी मिल गया क्योंकि अमेरिका (America)पटेल समुदाय के जवान युवाओं की वीज़ा काफी कम देता है लिहाजा एजेंट ने 30 लाख रुपयों की एवज में इसको पासपोर्ट बनवाकर अमेरिका (America)तक भेजने का सौदा किया.

32 साल के जयेश  से 82 साल के अमरीक सिंह बना ये शख्स लगभग अपने इरादों में कामयाब भी हो जाता अगर सीआईएसफ के एक जवान को इसपर शक नहीं होता. फिलहाल जयेश पटेल उर्फ अमरीक सिंह अब पुलिस की गिरफ्त में है. और ये सोच रहा है कि बाहर जाने की चाहत ने आखिरकार उसको अंदर पहुंचा दिया.

About Editor

Check Also

उत्तर भारतीयों पर बयान देकर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार विपक्ष के निशाने पर आए, यह कहा था

बरेली. उत्तर भारतीय युवाओं में कौशल की कमी की बात कहकर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य …