बताया जा रहा है कि दिल्ली के अशोक विहार स्थित रोहित कक्कर नाम के एक शख्स की फर्म में वो पार्टनर थीं. उनका आरोप कि इस फर्म के लोगों ने बिना उनकी जानकारी के बिल्डर कंपनी को बताया कि उनकी फर्म के साथ वीरेंद्र सहवाग जैसे प्रसिद्ध क्रिकेटर की पत्नी जुड़ी हैं. आरती का आरोप है कि फर्म के लोगों ने उनके पति के नाम का इस्तेमाल करते हुए उस कंपनी से करीब साढ़े चार करोड़ रुपए का लोन लिया. लोन के लिए जो कागजात पेश किये गए उसमें फर्म के लोगों ने उनके फर्जी सिग्नेचर किया था. आरती का आरोप है कि रोहित कक्कर समेत तकरीबन आधा दर्जन लोगों ने उनके साथ धोखा किया. उनका कहना है कि जब वो फर्म की पार्टनर बनी थीं तो यह तय हुआ था कि बिना उनकी इजाजत के कोई काम नहीं होगा.