Breaking News
Home / राष्ट्रीय / JAIPUR : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अटकलों पर लगाया विराम, 15 जून को नीति आयोग की बैठक में होंगे शामिल

JAIPUR : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अटकलों पर लगाया विराम, 15 जून को नीति आयोग की बैठक में होंगे शामिल

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 15 जून को नई दिल्ली में आयोजित होने वाली नीति आयोग की बैठक में हिस्सा लेंगे. इस दौरान गहलोत प्रदेश में चल रही सूखा सहित अन्य समस्याओं को आयोग के सामने रखेंगे. सीएम गहलोत ने राज उद्योग मित्र पोर्टल की लॉन्चिंग के बाद पत्रकारों से वार्ता के दौरान नीति आयोग की बैठक में शामिल नहीं होने की अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि वह नीति आयोग की बैठक में भाग लेने जा रहे हैं. उन्होंने इस दौरान कहा कि प्रदेश की सूखा सहित अन्य मु्द्दों को बैठक में रखेंगे.

सीएम गहलोत के नीति आयोग की बैठक में हिस्सा नहीं लेने की चल रही थीं अटकलें 
वहीं दूसरी ओर इससे पहले पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के नीति आयोग की बैठक में भाग नहीं लेने की खबरों के बाद गहलोत के भी दिल्ली नहीं जाने की अटकलें चल रही थीं. क्योंकि नीति आयोग को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 29 मार्च को ट्वीट कर सत्ता में आने के बाद नीति आयोग को खत्म कर योजना आयोग का गठन करने की बात कही थीं.

मुख्यमंत्री अशोक ने किया राज उद्योग मित्र पोर्टल लॉन्च
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को राज उद्योग मित्र पोर्टल की लॉन्चिंग कर दी है. राज उद्योग मित्र की लॉन्चिंग से अब प्रदेश में नए उद्योग लगाना आसान हो जाएगा. उद्योग के लिए आवेदन करते ही एक्नॉलिजमेंट सर्टिफिकेट मिल जाएगा. साथ ही तीन साल तक सभी विभागों के निरीक्षण की मुक्ति भी मिलेगी.

देश के अंदर जो हालात है उसकी मुझे चिंता 
पोर्टल लॉन्चिंग कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया. इस दौरान सीएम गहलोत ने कहा कि इस समय देश के अंदर जो हालात है उसकी मुझे चिंता है. गहलोत ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने बेरोजगारी के आकंड़ों को छुपाया, जबकि इन्हीं से विभागों की योजना तैयार होती है. न केवल इनको छुपाया गया बल्कि झूठ बोला गया, सच्चाई को स्वीकार करना चाहिए. इस दौरान गहलोत ने बेरोजगारी के आंकडों को लेकर भी निशाना साधा. सीएम ने इस दौरान कहा कि सरकार नई उद्योग पॉलिसी लाने पर विचार कर रही है. राजस्थान में इन्वेस्टमेंट का माहौल ज्यादा से ज्यादा बने इसी को लेकर हम प्रयास कर रहे हैं.

पिछले पांच साल में कोई निवेश नहीं आया
मीडिया से वार्ता के दौरान सीएम अशोक गहलोत ने उद्योग में पानी की व्यवस्था को लेकर प्रयास करने की बात कही. साथ देशभर में चल रहे जल संकट पर चिंता भी व्यक्त की. इस दौरान गहलोत ने रिसर्जेंट राजस्थान को पूरी तरह से फेल बताते हुए इसे सिर्फ दिखावा करार दिया है. साथ ही पिछले पांच साल में कोई निवेश नहीं आने की बात कही. इस दौरान गहलोत ने राज उद्योग मित्र पोर्टल को एक क्रांतिकारी कदम बताया. साथ ही कहा कि राजस्थान ऐसा पहला राज्य है जहां यह कानून लागू हो रहा है.

About Editor

Check Also

उत्तर भारतीयों पर बयान देकर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार विपक्ष के निशाने पर आए, यह कहा था

बरेली. उत्तर भारतीय युवाओं में कौशल की कमी की बात कहकर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य …