Breaking News
Home / राष्ट्रीय / इस शहर के ऑटो चालक ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, लाखों के हीरे मालिक को लौटाया

इस शहर के ऑटो चालक ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, लाखों के हीरे मालिक को लौटाया


जगदलपुर. शहर के एक ऑटोचालक ने एक ऐसी ईमानदारी की मिसाल पेश की है कि सभी इसकी सराहना कर रहे हैं. ऑटोचालक में ऑटों में छूटे एक बैग में रखे 7 लाख रुपए के हीरे जड़ित ज्वेलरी व पैसों को पुलिस की मौजदगी में उसके मालिक को सही सलामत वापस लौटाया है. ऑटो चालक महेश कश्यप की ईमानदारी को देखते हुए शहर वासियों ने उसकी जमकर तारीफ़ की और 7 हजार रुपए सहयोग राशि प्रदान दी गई.

दरअसल जगदलपुर शहर के रहने वाले जयचंद्र नामक व्यवसायी के घर गाजियाबाद उत्तर प्रदेश से शादी समारोह में शामिल होने रिश्तेदार के घर आए हुए थे. इस दौरान जयचंद्र जैन की बहन जो कि गाजियाबाद से आई हुई थी. रिसोर्ट से स्थानीय होटल में आने के लिए ऑटो में बैठी और हॉटल प्रांगण में उतरने के बाद अपनी बैग ऑटो में ही भूल गई. दूसरे दिन महिला ने अपने जेवर से भरी बैग की तलाश की, लेकिन उसे नहीं मिली. लगभग 7 लाख के हीरे के जेवरात घूमने की शिकायत कोतवाली थाने में की गई. लेकिन कहीं कोई सूराग नहीं मिला और परिवार वापस गाजियाबाद चला गया.

घटना के 3 दिन बाद ऑटोचालक को बैग मिला जिसे लेकर पूरा परिवार घबरा गया था. बैग में रखे एयर टिकट में दिए गए मोबाइल नंबर पर फोन करने के बाद ऑटो चालक को जेवरात के मालिक का पता चला और लगभग 7 लाख के जेवरात पीड़ित महिला के भाई जगदलपुर निवासी जयचंद्र जैन को पुलिस की मौजुदगी में ऑटो चालक ने वापस लौटा दिया.

ऑटो चालक महेश कश्यप की इस ईमानदारी को देखते हुए शहर के दो गणमान्य नागरिकों ने और सीटी एसपी ने महेश कश्यप के परिवार को थाने में सम्मानित किया. ऑटो चालक ने बताया कि कीमती जेवर देख उसका परिवार घबरा गया था. किसी तरह वे इस सामग्री को वापस करना चाहते थे और उन्होंने जेवर के मालिक का पता लगाया. ऑटो चालक महेश कश्यप की ईमानदारी को देखते हुए शहर के गणमान्य नागरिकों द्वारा सात हजार रूपए की सहयोग राशि प्रदान की.

About Editor

Check Also

इस शातिर कैदी ने तोड़ दिया तिहाड़ का तिलिस्म, लाख निगरानी के बाद भी पेट में छिपा रखा था मोबाइल

नई दिल्ली. तिहाड़ जेल का तिलिस्म आज तक किसी की समझ में नहीं आया है. जब …