Breaking News
Home / राष्ट्रीय / रक्षा मंत्री ने अपनी शराफत से जीत लिए करोड़ों दिल, कट्टर विरोधी का हालचाल लेने पहुंच गई अस्पताल

रक्षा मंत्री ने अपनी शराफत से जीत लिए करोड़ों दिल, कट्टर विरोधी का हालचाल लेने पहुंच गई अस्पताल


केरल. सोमवार को शशि थरूर थुलाभरम की रस्म करते हुए घायल हो गए थे। इस धार्मिक प्रथा के दौरान भगवान को किसी शख्स के वजन के बराबर कोई चीज चढ़ाई जाती है। थरूर अपने वजन के बराबर केले अर्पित कर रहे थे तभी मंदिर का तराजू टूट गया और उनके सिर और पैर में चोट लगी|

उन्हें इलाज के लिए तुरंत पास के अस्पताल लेकर जाया गया। जहां से उन्हें सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल में शिफ्ट किया गया। यहां कांग्रेस नेता प्रचार कर रहे थे। उन्होंने प्रचार अभियान की शुरुआत करने से पहले काजाखुट्टम निर्वाचन क्षेत्र में थुलाभरम किया।

चुनाव में उनके खिलाफ मिजोरम के पूर्व राज्यपाल और भाजपा उम्मीदवार कुम्मनम राजशखेरन खड़े हैं। उनके क्षेत्र में 23 अप्रैल को चुनाव होने हैं।

इस हादसे के बाद उनसे मिलने देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतरमण अस्पताल पहुंची| जो कि राजनीतिक शिष्टाचार को दर्शाने वाली चीज थी पिछले कुछ वर्षों में राजनीति में ऐसी चीजें बहुत कम देखने को मिली|

ऐसा इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि अभी बीजेपी के दो बड़े नेता और मौजूदा सरकार में मंत्री अरुण जेटली और सुषमा स्वराज की तबीयत खराब हुई थी और वे दोनों लोग अस्पताल में भी भर्ती हुए थे लेकिन उनका हाल जानने के लिए कोई भी कांग्रेस का नेता नहीं पहुंचा था|

फिलहाल शशि थरूर ने ट्विटर पर इस मुलाकात की तस्वीर साझा करते हुए लिखा- ‘सीतरमण के स्वभाव ने मुझे काफी छुआ जो अपने व्यस्त चुनावी अभियान से समय निकालकर मुझसे मिलने के लिए अस्पताल आईं। भारतीय राजनीति में यह शिष्टाचार का दुर्लभ गुण है। उन्हें ऐसा करते हुए देखकर अच्छा लगा।’

About Editor

Check Also

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीठासीन अधिकारी महोम्मद जुबैर को पीटा, जानें क्या है मामला

मुरादाबाद. संभल लोकसभा में सम्मिलित मुरादाबाद की बिलारी विधानसभा के बूथ नंबर 231 पर बीजेपी कार्यकर्ताओं …