Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / ब्रिटेन में पिछले 5 सालों में भारतीयों के घर से 1280 करोड़ के गहने चोरी

ब्रिटेन में पिछले 5 सालों में भारतीयों के घर से 1280 करोड़ के गहने चोरी


लंदन। ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों को सोने का प्रेम भारी पड़ रहा है। बीते पांच साल में उनके घरों से 140 मिलियन पाउंड (1,280 करोड़ रुपये) के आभूषण चोरी हुए हैं। यह जानकारी सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी से सामने आई है। यह जानकारी बीबीसी ने अपनी खोजपूर्ण पत्रकारिता के जरिये जुटाई है। ब्रिटेन की दुकानों में एशियन गोल्ड के नाम से बेचे जाने वाले आभूषण अक्सर शादी के मौकों पर उपहार स्वरूप दिए जाते हैं। आभूषणों देन-लेन का यह चलन दक्षिण एशियाई परिवारों में खासतौर पर होता है।

सन 2013 से अभी तक घरों में रखे इन आभूषणों की चोरी की 28,000 घटनाएं हुई हैं। सर्वाधिक आभूषण लंदन इलाके से चुराए गए। यहां से 115.6 मिलियन पाउंड (1,056 करोड़ रुपये) के आभूषण चोरी हुए, जबकि 9.6 मिलियन पाउंड (88 करोड़ रुपये) के आभूषण मैनचेस्टर इलाके से चोरी हुए। चोरी के इन मामलों की जांच से जुड़े पुलिस अधिकारी ऐरन डुग्गन के अनुसार चोर पकड़ने के बाद भी आभूषणों की बरामदगी में खासी मुश्किल आती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आभूषणों को बहुत जल्द गला दिया जाता है और इसके बाद सोने को बेच दिया जाता है।

भारतीय समुदाय के लोगों के बीच आभूषणों के लिए प्रसिद्ध स्टोर चलाने वाले संजय कुमार बताते हैं कि वह अपने ग्राहकों को आभूषण सुरक्षित रखने के तरीकों की जानकारी देते रहते हैं। साथ ही आभूषणों का बीमा कराने की भी सलाह देते हैं। संजय कुमार का स्टोर लंदन में है।

उन्होंने बताया कि ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों के माता-पिता और दादा-दादी उन्हें सोना खरीदने की सलाह देते हैं। बुजुर्ग सोने को सुरक्षित निवेश मानते हैं, साथ ही उसका पास होना भाग्यशाली भी मानते हैं।

About Editor

Check Also

भारत ही नहीं अमेरिका में भी गुल होती है बिजली

न्यूयॉर्क. भारत में बिजली गुल होना आम बात है लेकिन अमेरिका जैसे विकसित राष्ट्र में ब्लैक …